Friday , January 18 2019
Breaking News
Home / कारोबार / महिला उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए नीति आयोग ने उपलब्ध करवाया खास मंच

महिला उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए नीति आयोग ने उपलब्ध करवाया खास मंच

डब्ल्यूईपी ने उद्योग लॉबी समूहों और संस्थाओं सहित कई श्रेणियों के साथ साझेदारी की है जिसमें नैस्कॉम, सिडबी, फिक्की और सीआईआई शामिल हैं

नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। नीति आयोग ने एक खास मंच उपलब्ध करवाया है जिसका मुख्य उद्देश्य एक जीवंत उद्यमशीलता पारिस्थितिक तंत्र उपलब्ध करवाना है जहां महिलाओं को लिंग-आधारित बाधाओं का सामना न करना पड़े।

द वूमेन आंत्रप्रेन्योरशिप प्लेटफॉर्म (डब्ल्यूईपी) महिला उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए निजी क्षेत्र की पहलों के अलावा मौजूदा सरकारी योजनाओं और कार्यक्रमों के बारे में जानकारी के देने के लिए एक प्रसार बिंदु के रूप में कार्य करेगा। नीति डब्ल्यूईपी के प्रमुख अन्ना रॉय ने बताया, “यह मंच ऐसी महिलाओं की संख्या बढ़ाने में मदद करेगा जो उद्यमशीलता में रुचि रखती हैं जो कि एक गतिशील भारत का सृजन करने के साथ ही उसे और सशक्त करेगा।”

रॉय ने कहा कि वे माइक्रो फाइनेंस के साथ साझेदारी पर भरोसा करेंगे, जो कि क्रेडेंशियल्स और क्रेडिट मूल्यांकन की मूल सत्यापन के लिए तकनीक को और सक्षम बनाएंगे ताकि महिलाओं के नेतृत्व वाले व्यवसायों तक क्रेडिट की पहुंच को और आसान किया जा सके।

डब्ल्यूईपी ने उद्योग लॉबी समूहों और संस्थाओं सहित कई श्रेणियों के साथ साझेदारी की है जिसमें नैस्कॉम, सिडबी, फिक्की और सीआईआई शामिल हैं। इसके अतिरिक्त फेसबुक जैसी कंपनियां 100 चयनित महिलाओं को क्रेडिट एड की सुविधा प्रदान करेगी और शॉपक्लूज एक साल के लिए 12 महिला उद्यमियों का मार्गदर्शन करेगी। वहीं नैस्कॉम नाममात्र शुल्क पर 10 राज्यों की 15 महिलाओं के नेतृत्व वाले स्टार्टअप के लिए आधारभूत संरचना प्रदान करेगा। इतना ही नहीं डब्ल्यूईपी ने डायस के साथ साझेदारी भी की है, जो कि 10 करोड़ रुपये का फंड प्रदान करेगा।

 

About AAJ REPORTER

Check Also

आईटीआरः मोबाइल एप के अलावा इन बैंकों, टैक्स वेबसाइट्स से मुफ्त में फाइल होगा रिटर्न

आयकर विभाग ने इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की अंतिम तारीख को एक महीने आगे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by moviekillers.com